Blogs

Ambedkar Jayanti with Special kids

14-Apr-2017 09:28

उपमंडल विधिक सेवाएं समिति एवं जे जे इंस्टीट्यूट आॅफ मेडिकल साइंसिस ,जीवन ज्योति अस्पताल के संयुक्त तत्वाधान में शहर के पटेल नगर स्थित आशा किरण स्पेशल स्कूल में संविधान निर्माता डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की 126वीं जयंती मनाई गई।जिसमें बाबा साहेब के जीवन पर प्रकाश डाला गया तथा स्पेशल स्कूल में उपस्थित निशक्त बच्चों को फर्स्ट एड बाक्स, पैन,पैंसिल, नोटबुक तथा कलर आदि स्टेशनरी के साथ साथ फल, बिस्कुट, जूस एवं दूध आदि आहार उपहार स्वरूप भेंट दिए गए। कार्यक्रम की अध्यक्षता सोसायटी की सचिव एवं शिक्षिका कुसुम लता ने की तथा मुख्य अतिथि के रूप में जे जे इंस्टीट्यूट आॅफ मेडिकल साइंसिस के निदेशक दीपक खट्टर एवं जीवन ज्योति अस्पताल की निदेशक तथा स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉक्टर ज्योति मलिक ने शिरकत की जबकि विशिष्ट अतिथि के रूप में उपमंडल विधिक सेवाएं समिति के सदस्य सत्येंद्र दहिया, एंजिलो फाऊंडेशन के अध्यक्ष विजय मुदगल, यंग जीनियस कान्वेंट स्कूल के निदेशक सत्यवान मलिक, शिक्षाविद के एल टक्कर, तथा साहिल कुमार एडवोकेट उपस्थित रहें।

 

सभी अतिथियों ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया।मुख्य अतिथि दीपक खट्टर ने डाक्टर भीमराव अंबेडकर के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें नमन करते हुए कहा कि बाबा साहेब अंबेडकर ने अपने जीवन में सदा गरीब व निचले स्तर तक के मेहनतकश लोगों के जीवन स्तर को सुधारने के लिए काम किया। उन्होंने समाज के दलित व गरीब और पिछड़े असहाय किसानों एवं मजदूरों के उत्थान एवं जीवन बचाने के लिए संघर्ष किया। उन्होंने बेटी बचाओ---बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम के अंतर्गत स्कूल की छात्रा नन्दनी को 5100/- रूपये प्रति माह देने की घोषणा की ताकि यह बेटी अपनी पढ़ाई सुचारू रूप से कर सकें। उपमंडल विधिक सेवाएं समिति के सदस्य सत्येंद्र दहिया ने कहा कि बाबा साहेब ने समाज में फैले आपसी भेदभाव व जातिवाद को दूर करने के लिए लोगों को जागरूक किया तथा संविधान के माध्यम से सबको समान अधिकार दिए।

 

 

शिक्षाविद के एल टक्कर ने अपने संबोधन में कहा कि बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर ने हमारे देश का संविधान इतना मजबूत बनाया कि जिसकी आज भी पूछे देश व विश्व में चर्चा होती है।उन्होने अधिकारों के साथ साथ कर्तव्यों का पालन करने की भी सीख दी। जीवन ज्योति अस्पताल की निदेशक एवं स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉक्टर ज्योति मलिक ने बाबा साहेब के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि हमें आपसी भेदभाव भुलाकर एकजुट रहना होगा यही भारत रत्न डाक्टर भीमराव अंबेडकर को हमारी तरफ से सच्ची श्रद्धांजलि होगी। उन्होंने भविष्य में भी इन निशक्त बच्चों के लिए जीवन ज्योति अस्पताल की ओर से हर संभव मदद करने का संकल्प किया। अपने अध्यक्षीय संबोधन में कुसुम लता ने सभी अतिथियों का स्वागत किया एवं धन्यवाद दिया कि उन्होंने संविधान निर्माता डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की जयंती मनाने के लिए उनके स्पेशल स्कूल को यह सौभाग्य मिला यह उनके बच्चों के लिए गर्व की बात है। कार्यक्रम का मंच संचालन समिति के कोषाध्यक्ष बिजेंद्र सिंह ने किया तथा निशक्त बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत कर शमां बांध दिया।

 

इस अवसर पर एंजिलो फाऊंडेशन के अध्यक्ष विजय मुदगल, साहिल कुमार एडवोकेट, यंग जीनियस कान्वेंट स्कूल के दीपक मलिक, बाबा रामदास एजुकेशनल एंड वैलफेयर सोसायटी से प्रधान राजबाला, मनमोहन कृष्ण मुरारी, दयानंद शर्मा एवं राजबीर कादयान, पूर्वांचल परिवार के अध्यक्ष प्रदीप सिन्हा, दुर्गा सेवा समिति के अध्यक्ष दुर्गा प्रसाद,राजेन्द्र दहिया, सुभाष शर्मा, सूर्य कुमार सहित स्पेशल स्कूल का पूछा स्टाफ मौजूद रहा।

   Back to Blog